Jute bag making business ke bare mein jankari

जूट के बैग बनाने का व्यवसाय के बारे में सम्पूर्ण जानकारी : Jute Bag Manufacturing Business

Table of Content (toc)




आज की दुनिया में, व्यवसाय शुरू करना मुश्किल नहीं है। आज कल पहले से ही इतने सारे विकल्प उपलब्ध होने के कारण, लोगों को अपने लिए व्यवसाय चुनने में कोई बाधा नहीं है। लेकिन आप एक बार अपना व्यापार शुरू करने की ठान लेते हैं तो निश्चित रूप से आपको शुरुआत से ही कुछ चीजों को समझने, विश्लेषण करने और योजना बनाने की जरूरत है।  ऐसा ही एक है, जूट बैग का कारोबार। बहुत से लोग वर्तमान में ऐसे व्यवसायों को संभाल रहे हैं जो पर्यावरण को और नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। अगर आप जूट बैग का बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो यह आर्टिकल आपकी जूट बैग व्यवसाय के बारे में कई तरह से मदद करेगा।

जूट के बैग की बाजार में मांग 

कोई भी बिज़नेस शुरू करने के लिए सबसे पहले मार्किट सर्वे किया जाता है, मेरा मानें तो जब भी कोई मनुफक्चरिंग बिज़नेस शुरू करे तो पहले मार्किट में उपलब्ध प्रोडक्ट को अपने एरिया में  टेस्ट करे की, उस प्रोडक्ट का मार्किट में कितना मांग है, जिस प्रोडक्ट पर आप काम करने वाले है जैसा की हम जूट बैग के बारे में बात कर रहे है आप बने बनाये अच्छे बैग थोक में ले कर सेल करे, इससे इस बिज़नेस की बारीक से बारीक चीजों को समझ पायेंगे

हम इस तथ्य से अच्छी तरह वाकिफ हैं कि हाल के दिनों में पर्यावरण की स्थिति बहुत खराब हो गई है। प्लास्टिक की थैलियों जैसे गैर-बायोडिग्रेडेबल उत्पादों का उपयोग करने से बहुत सारी समस्याएं आती हैं और इसे एक खतरा माना जाता है। भारत के अधिकांश हिस्सों में ऐसे उत्पादों पर प्रतिबंध लगाने के बावजूद, लोग अभी भी उनका उत्पादन और उपयोग करते हैं क्योंकि इन वस्तुओं का कोई विकल्प नहीं है। इसके विपरीत, कई क्षेत्रों में, लोगों ने प्लास्टिक की वैकल्पिक सूची को ठीक करने के लिए जूट उत्पादों का उपयोग करना शुरू कर दिया है। जो की हमारे पर्यावरण के अनुकूल है 

जूट बैग बनाने के लिए बिज़नस  प्लानिंग

पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम जो आपको उठाने की जरूरत है, वह है अपनी समझ के अनुसार हर चीज की योजना बनाना। जूट के बैग बनाने के व्यवसाय की एक अच्छी प्लानिंग करने के लिए हमें कुछ बातों को ध्यान में रखना चाहिए

क्षेत्र का निर्धारण सबसे शुरुवाती कदम है की जो आप  जूट बैग व्यवसाय करने जा रहे है वह कहां से स्टार्ट करने जा रहे है  क्षेत्र का निर्धारण एक महत्वपूर्ण  भूमिका अदा करता है उसके बाद नंबर आता  है कच्चा माल जूट फैब्रिक आप जहां से बिज़नस  स्टार्ट कर रहे है वहां से कितना दूरी पर कच्चा माल उपलब्ध है कच्चा माल को अपने फैक्टरी तक किस माध्यम से लाना है इसका भी प्लानिंग जरुरी है और अगर जिस कंपनी से आप जूट फेब्रिक ले रहे है अगर वो टाइम पर उपलब्ध नहीं करा सकते है तो उसके लिए भी अन्य कंपनी से पहले हे बात कर लेनी चाहिए 

जूट बैग डिज़ाइन और कितना बैग तैयार  करना है वो मार्किट के  डिमांड के अनुसार अलग अलग समय में उस टाइम के अनुसार करना पड़ेगा ये निर्भर करता है की आप लोकल मार्किट  पर फोकस है या एक्सपोर्ट या ऑनलाइन सेलिंग पर. 
 
इस चरण को क्रियान्वित करते समय आपको कई बातों पर विचार करने की आवश्यकता है। इससे पहले कि आपअपने व्यवसाय की योजना बनाना शुरू करें, सुनिश्चित करें कि आप एक प्रशिक्षित व्यक्ति या स्टार्टअप कोच के साथ पहले से ही बाजार की जानकारी जानने के लिए बैठें। आवश्यक प्रशिक्षण प्राप्त करने पर विचार करें ताकि आप शुरुआत में कोई गलत कदम न उठाएं। जूट बैग व्यवसाय को बाजार, पूर्व योजना, बाजार रणनीति और बहुत कुछ के बारे में बहुत कुछ समझने की जरूरत है।


जूट फैब्रिक से किस टाइप के अलग-अलग आइडिया बैग बन सकते है 



कई जूट बैग निर्माताओं के पास पहले से ही एक उचित बाजार है, यदि आप एक ही काम करते हैं तो बहुत अंतर नहीं होगा। आपका बिजनेस आइडिया अलग होना चाहिए, यदि आप जूट बैग का व्यवसाय शुरू करने की योजना बना रहे हैं, तो आप निश्चित रूप से बहुत अधिक विविधता ला सकते हैं। यहाँ एक निश्चित वस्तु से अलग अलग टाइप के समान बना कर अधिक भीड़ का ध्यान आकर्षित करने में सक्षम होंगे। आप अपने व्यवसाय में जितने अधिक विकल्प एकीकृत करेंगे, यह खरीदारों के लिए उतना ही बेहतर होगा। साथ ही आप अच्छा मुनाफा कमा सकते है 

शॉपिंग बैग्स – जूट फेब्रिक के इस्तेमाल से हम शॉपिंग बैग्स का निर्माण कर सकते हैं. इन बैग्स का इस्तेमाल हम मार्केट में खरीदारी करने के लिए कर सकते हैं. ये लेमिनेटेड और लेमिनेटेड के बिना हो सकते है , यह बहुत मजबूत और टिकाऊ होते हैं जिस कारण ये काफी लंबे समय तक बिना फटे काम आते हैं.

फैंसी हैंडबैग – जूट के द्वारा हम लेडीस के काम आने वाले फैंसी हैंडबैग का निर्माण कर सकते हैं. यह बैग्स बहुत ही अच्छे दिखते है, इस कारण लोगों के बीच आकर्सण का केन्द्र बन जाते है 

बॉटल बैग्स – जूट के द्वारा बोतल के बैग्स भी बनते हैं. इन बैग्स में पीने वाली पानी की बॉटल को ले कर ऑफिस या कही भी यात्रा में ले कर जा सकते है 

लगेज बैग्स –  घूमने जाने के लिए उपयोग में आने वाले लगेज बैग्स भी जूट के द्वारा बनाये जाते  हैं. यह बैग्स दिखने में आकर्षक और फैंसी होते हैं. यह काफी मजबूत होने के कारण इनका इस्तेमाल भी वर्तमान समय में कुछ तेजी से बढ़ रहा है.

वाइन बॉटल बैग्स – किसी भी रेस्टोरेंट में और बाहर वाइन की बोतल की बिक्री के लिए जूट के बैग्स का इस्तेमाल किया जाता है. यह बैग्स दिखने में आकर्षक होने के कारण उनका रुतबा ही एक अलग होता है. आजकल वाइन की बॉटल को इन बैग्स में पैक करके बेचा जाता है.

मार्केटिंग बैग्स – अपने व्यापार की मार्केटिंग करने के लिए आजकल दुकानदार जूट के बैग्स पर अपने व्यापार और दुकान का नाम लिख कर कस्टमर को देते हैं. जूट बैग्स की सहायता से वे अपने व्यापार का प्रचार करते हैं. यह बैग दिखने में आकर्षक होने के कारण इनका उपयोग जनता करती है, जिससे उनके व्यापार का कम खर्चे में प्रचार हो जाता है.


जूट उद्योग के लिए स्थानों का निर्धारण करने का प्रयास करें।

एक सफल व्यवसाय होने के प्रमुख कारकों में से एक है एक आदर्श  क्षेत्र का निर्धारण जहाँ जूट बैग बनाने से सम्बन्दित यूनिट लगा सके, ये जगह अगर घनी जनसंख्या के बीच हो तो जायदा आसान होता है कम जनसंख्या वाले जगह पर बिज़नस आसानी से आगे नहीं बढ़ पाता है जूट बैग एक ऐसा बिज़नस है जो अभी छोटे शहर में इसकी डिमांड कम है  पर जो विकसित क्षेत्र  है वहां ये बिज़नस आसानी से फ़ैल रहा है पर आज-कल जूट बैग की जरुरत सभी जगह होते जा रही  है क्यों कि सरकार के तरफ से पलास्टिक को बैन कर रहे है जो की हमारे वातावरण को सुरक्षित करने में एक अच्छा कदम है 

इन सबके अतिरिक्त यदि आप छोटे पैमाने पर व्यवसाय आरंभ कर रहे हैं, तो उसके लिए आपको ज्यादा बड़ी जगह कीआवश्यकता नहीं होगी. आप अपने घर से इस व्यवसाय को शुरू कर सकते है 


कच्चे माल की आवश्यकता

 बैग बनाने के लिए कच्चा माल प्राप्त करना। आपके व्यवसाय के लिए आवश्यक मुख्य कच्चे माल में जूट के कपड़े के रोल, बांस की छड़ें, रसायन और सहायक, डाई, लैमिनेटेड और बिना लैमिनेटेड जूट के कपड़े, हुक, रसायन, जूट के कपड़े, पीवीसी बकल, प्रिंटिंग गम, पैकेजिंग सामग्री और सिलाई नायलॉन के धागे शामिल हैं। ये सभी कच्चे माल आपके उत्पादन के लिए एक स्टार्टर हैं। आपको उन सभी की आवश्यकता होगी, इसलिए सुनिश्चित करें कि आपके जूट बैग थोक ऑनलाइन व्यवसाय की स्थापना करते समय आपके पास इन सामग्रियों की पर्याप्त आपूर्ति है। यदि आप अपने व्यवसाय के साथ ऑनलाइन जाते हैं, तो भारत के अन्य जूट बैग निर्माताओं की तरह, आप यह जानने के लिए विशेषज्ञों की मदद ले सकते हैं कि आपके व्यवसाय को आगे क्या चाहिए।

आपके कारखाने में आवश्यक उपकरण

अब, जब आपने किसी स्थान के बारे में सोचा है, तो आपके पास एक पूरी योजना है, आपके पास व्यवसाय का विचार है, आपके पास आवश्यक कच्चा माल भी है; अगली बात जो मायने रखती है वह है आपके कारखाने में आवश्यक उपकरण ढूंढना। इससे पहले, आपको यह जानने की जरूरत है कि सभी की क्या जरूरत है। यहां कुछ प्रमुख उपकरण दिए गए हैं जिन्हें आपको अपने कारखाने में रखना चाहिए। फैब्रिक कटिंग मशीन, लॉकस्टिच मशीन, कॉटेज स्टीमर, हैवी ड्यूटी सिलाई मशीन, कटिंग मशीन, बुना बोरी बैग कटिंग मशीन, कटिंग टेबल, प्रिंटिंग कलरिंग पेंट्स के लिए स्टैंसिल उपकरण, साइड सीलिंग मशीन, साधारण सिलाई मशीन, वाटर ड्रम, स्टूल, क्लिप, ट्यूब , स्टील के चम्मच, बाल्टी, रोपर, इलेक्ट्रिक फिटिंग, डाई पेस्ट स्टिरर, रबर वाइपर, लैमिनेशन मशीन, मापने वाला टेप और कैंची। अपने उत्पादन और जूट व्यवसाय पर पकड़ बनाने के बाद, आप अपनी पसंद के अनुसार अन्य आधुनिक उपकरणों के साथ उपकरणों की अदला-बदली कर सकते हैं। इसके अलावा, जब आप जूट बैग ऑनलाइन या जूट बैग थोक में शुरू करते हैं तो आपके लिए चीजें बदल सकती हैं।

जूट बैग उधोग  के लिए आवश्यक लाइसेंस और अनुमति

जूट बैग उद्योग शुरू करने के लिए ज्यादा कुछ कागजी कार्रवाई की आवश्यकता नहीं पड़ती है, लेकिन कोई भी उधोग शुरू करने के पहले  कुछ छोटी-मोटी प्रक्रिया का पालन करना बेहद जरुरी है और हमें, इसे हर किसी भी हाल में पालन करना चाहिए ताकि भविष्य में कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़े।

जीएसटी रजिस्ट्रेशन  अगर आप कोई भी उद्योग शुरू करते है तो आप सभी जानते हैं कि उद्योग शुरू करने के साथ जीएसटी पंजीकरण करना अब बेहद आवश्यक हो गया है. इसलिए आपको अपने उद्योग के लिए भी जीएसटी नंबर प्राप्त करना अनिवार्य है| 

फर्म का रजिस्ट्रेशन  सबसे पहले आप कितने पैमाने पर अपनी फर्म का आरंभ करने जा रहे हैं उसका पंजीकरण अवश्य करा लें, या तो आपकी फर्म इकाई वाली हो जिसमें आप अकेले मालिक हैं या फिर आप साझेदारों के साथ मिलकर अपनी फर्म आरंभ करना चाहते हैं तो उसी प्रकार का पंजीकरण आपको कराना होगा.

ट्रेड लाइसेंस  भारतीय कानून के अनुसार किसी भी व्यवसाय को आरंभ करने के लिए ट्रेड लाइसेंस लेना आवश्यक होता है, इस व्यवसाय के लिए भी आपको पंजीकरण कराना होगा.

एसएसआई यूनिट  इन सबके अलावा आपको एसएसआई यूनिट के अंतर्गत भी अपने व्यवसाय के लिए प्रमाण पत्र पाने के लिए आवेदन भरना होगा.

आईईसी कोड  यदि आप अपने जूट बैग को बनाकर अलग-अलग जगहों पर निर्यात करने की सोच रहे हैं, तो उसके लिए आपको आईईसी कोड की आवश्यकता होगी. इसलिए पहले ही व्यवसाय आरंभ करते समय आईईसी कोड के लिए आवेदन अवश्य भर दें.


निष्कर्ष

अब, अगर आपको लगता है कि केवल यही चीजें हैं जिनका आपको ध्यान रखने की आवश्यकता है, तो आप इस पर पूरी तरह से गलत हैं। एक ही समय में कई अन्य छोटी चीज़ों पर आपका ध्यान देने की आवश्यकता है।अपने जूट बैग के व्यवसाय का विस्तार करते समय, आपको एक अच्छी मार्केटिंग टीम, एक विशेषज्ञ की भी आवश्यकता होगी जो आपको और निवेशकों के माध्यम से मार्गदर्शन कर सके। 

एक बार जब आप बाजार से अच्छी प्रतिक्रिया प्राप्त करना शुरू कर देते हैं, तो लाभ मार्जिन में काफी वृद्धि होगी, और यह अनुशंसा की जाती है कि यदि आप अपने लाभ को बढ़ाना चाहते हैं, तो ऑनलाइन जाना आपकेलिए सबसे अच्छी बात होगी।

आज कल भारत में कुछ जाने माने ईकॉमर्स प्लेटफार्म है उद्धरण के तौर पर फ्लिपकार्ट (Flipkart) अमेज़न (Amazon) एक अच्छा विकल्प है जिसकी सेवा पुरे देश में हैं। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.